विक्रम शिन्डे - चंगाई
विक्रम शिन्डे एक विकलाँगता से ग्रसित व्यक्ति था पर इस बात ने उसे कभी भी क्रिकेट खेलने नहीं रोका था। विक्रम का कहना है, मैं क्रिकेट का दीवाना हूँ। मुझे क्रिकेट से बहुत प्यार है विशेषकर इस लिए क्योंकि मेरा परिवार खेलों का दीवाना है। मेरे पिता राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के खिला़ड़ी थे। देखिये विक्रम की गवाही >>
सलीम की गवाही
सलीम वह सब करता था जो उसे जीवन में मज़ा देता था और उसके जीवन को आनन्दमय बनाता था। परन्तु मन के अन्दर कहीं पर वह बहुत ही बेचैन और परेशान रहता था। उसका कहना था मेरे अन्दर एक अनजानी सी आवाज़ सदा मुझ से कहती रहती थी कि मैं सब कुछ गलत कर रहा हूँ। देखिये सलीम की गवाही >>
विनीफ़रेड मोजेस की गवाही
विनिफ्रेड मोसेस अपने परिवार से सम्पूर्ण हृदय से प्यार करती थी। वह उनके लिये अपना जीवन जी रही थी। उसे अपने पति एवं बच्चों को खुश देखकर बहुत खुशी एवं सन्तुष्टि होती थी कि वह उनके लिये यह सब कर पा रही है। देखिये विनीफ़रेड की गवाही >>
एक आदमी एक गढ़े में गिर गया था
एक आधूनिक दृष्टान्त का एक टुकड़ा है जहाँ एक व्यक्ति संसार के हर धर्म में परमेश्वर के वायदों को खोज रहा है। वीडियो देखिये >>
2012: la fin du monde?

2012: La fin du monde ?

Le calendrier maya prouve-t-il que le monde prendra fin cette année 2012 ?
Y aura t-il une troisième guerre mondiale comme Nostradamus l’a prédit ?

La Bible dit ceci au sujet de la fin des temps : “Personne ne sait le jour ni l’heure,
pas même les anges dans les cieux.” (Evangile de Marc 13:32).
Mais il y a une chose que nous savons : que le monde se termine demain
ou dans un million d’années, vous allez naturellement mourir un jour,
par contre, votre âme, elle, vivra éternellement.

Une question : où voulez-vous passer votre éternité ?
Deux options : dans la félicité avec Dieu ou dans la souffrance avec le Diable,
comme le dit la Bible ?
Une réponse : Dieu a envoyé Son Fils, Jésus-Christ, pour mourir pour nos péchés
afin que nous puissions vivre éternellement en présence de Dieu.

Une invitation : tout ce que vous avez à faire c’est d’accepter le don gratuit du salut de Dieu.
Ne vivez pas dans la peur du lendemain… tournez-vous vers Dieu aujourd’hui et
recevez l’assurance que vous vivrez l’éternité avec lui dans le ciel !

>> Je désire prier Dieu pour recevoir le don du salut <<